E-Commerce क्या है ?

इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स (Electronic Commerce) इंटरनेट जैसे बड़े इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क पर व्यापार करने का एक तरीका है । ई-कॉमर्स के अंतगर्त वस्तुओं या सेवाओं को खरीद या बिक्री इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम जैसे - इंटरनेट के द्वारा होता है । यह इंटरनेट पर व्यापर है । ई-कॉमर्स को व्यापक रूप से इंटरनेट पर उत्पादों की खरीदारी और बिक्री माना जाता है

वर्तमान में ई-कॉमर्स इंटरनेट के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है । ईकॉमर्स उपभोक्ताओं को समय या दूरी की बिना कोई बाधाओं के साथ वस्तुओं और सेवाओं का इलेक्ट्रॉनिक रूप से आदान-प्रदान करने की अनुमति देता है । इंटरनेट पर सामान ख़रीदना और बेचना ईकॉमर्स के सबसे लोकप्रिय उदाहरणों में से एक है ।

ईकॉमर्स के उदाहरण :-

  • Online Shopping
  • Electronic Payments
  • Online Auctions
  • Internet Banking
  • Online Ticketing

ई-कॉमर्स के प्रमुख लाभ :-

  • ई-कॉमर्स का उपयोग करते हुए, संगठन न्यूनतम पूंजी निवेश के साथ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अपने बाजार का विस्तार कर सकता है ।
  • ई-कॉमर्स कंपनी की ब्रांड छवि को बेहतर बनाता है ।
  • ई-कॉमर्स संगठन को बेहतर ग्राहक सेवाएं प्रदान करने में सहायता करता है ।
  • ई-कॉमर्स व्यापार प्रक्रियाओं को सरल बनाने और उन्हें तेज़ और कुशल बनाने में मदद करता है ।
  • ई-कॉमर्स कागज काम बहुत कम कर देता है ।
  • ई-कॉमर्स ने संगठन की उत्पादकता में वृद्धि की ।
  • ई-कॉमर्स उत्पादों की लागत कम करने में मदद करता है इसलिए कम से कम समृद्ध लोग भी उत्पादों को खरीद सकते हैं ।

ई-कॉमर्स के प्रकार :-

  1. Business to Business E-commerce (B2B E-commerce)
  2. Business to Consumer Ecommerce (B2C Ecommerce)
  3. Consumer to Business Ecommerce (C2B Ecommerce)
  4. Consumer to Consumer Ecommerce (C2C E-commerce)